• 19/05/2022

अब आया ‘मंकीपॉक्स’ वायरस, ब्रिटेन के बाद इस देश में मिला, जानिए कितना घातक है

अब आया ‘मंकीपॉक्स’ वायरस, ब्रिटेन के बाद इस देश में मिला, जानिए कितना घातक है

बोस्टन। कोरोना के बाद अब एक और वायरस ने अपने पैर पसारना शुरु कर दिया है। ब्रिटेन में मिलने के बाद ‘मंकीपॉक्स’ नाम के वायरस ने संयुक्त राज्य अमेरिका में अपनी आमद दे दी है। कनाडा से लौटे एक शख्स में मंकीपॉक्स वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। बुधवार अमेरिका के मैसाचुसेट्स डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक हेल्थ ने इसकी पुष्टी की है।

डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक हेल्थ ऐसे लोगों की पहचान करने में लगा है जो संक्रमित के संपर्क में आए हैं। मैसाचुसेट्स द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक संक्रमित से समाज के अन्य लोगों को कोई खतरा नहीं है। वह अस्पताल में भर्ती है और उसकी हालत ठीक है।

बताया जा रहा है कि मंकीपॉक्स रेयर लेकिन गंभीर किस्म का वायरल है। जिसके शुरुआती लक्षण फ्लू जैसे ही होते हैं। शुरुआत लिम्फ नोड्स की सूजन के साथ होती है और बाद में चेहरे और शरीर में दाना आना शुरु हो जाता है। इसका इन्फेक्शन दो से चार सप्ताह तक रहता है और यह आसानी से नहीं फैलता। हालांकि संक्रमित द्वारा इस्तेमाल में लाई गई चीजें, काफी देर तक आमने-सामने का संपर्क और रेस्पिरेटरी डॉपलेट के संपर्क में आने से इन्फैक्शन फैल सकता है।

मंकीपॉक्स से इन्हें है खतरा

यूएसए में यह पहला मामला है। इसके पहले साल 2021 में मैरीलैंड और टेक्सास में नाइजीरिया की यात्रा करने वालों में इसे देखा गया था। वहीं ब्रिटेन में इस साल मई में 9 मामलों की पुष्टि हई। इनमें से एक ने नाइजीरिया की यात्रा की थी। बाकि के संक्रमितों ने कोई भी यात्रा नहीं की थी। यहां के स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक संक्रमितों में ऐसे लोग शामिल हैं जो कि समलैंगिक हैं।

इसे भी पढ़ें : महंगाई का फिर झटका : गैस सिलेंडरों के दाम फिर बढ़े, जानिए कितनी हुई कीमत


Related post

तेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स, कहर से बचने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की एडवायजरी

तेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स, कहर से बचने केन्द्रीय…

नई दिल्ली। यूरोप और अमेरिका सहित कई देशों में इन दिनों मंकीपॉक्स तेजी से फैल रहा है। दुनिया के कई देशों…