• 30/06/2022

लैंडस्लाइड की चपेट में आर्मी कैम्प, दर्जनों जवान दबे, 7 का शव बरामद

लैंडस्लाइड की चपेट में आर्मी कैम्प, दर्जनों जवान दबे, 7 का शव बरामद

नई दिल्ली। देश के पूर्वोत्तर राज्यों में पिछले कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है। बारिश की वजह से लैंडस्लाइड की घटनाएं बढ़ी हैं। मणिपुर में बुधवार रात हुए लैंडस्लाइड की चपेट में टेरिटोरियल आर्मी का कैंप आ गया। लैंडस्लाइड होने से दर्जनों जवान मिट्टी के नीचे दब गए। जानकारी के मुताबिक अब तक 7 जवानों का शव बाहर निकाला जा चुका है। वहीं 13 जवानों का रेस्क्यू कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि अभी भी तकरीबन 40 से ज्यादा जवान दबे हुए हैं। जानकारी के मुताबिक आर्मी जवानों के अलावा लैंड स्लाइड की चपेट में आम आदमी भी आ गए हैं।

घटना नोनी जिले के तुपुल रेलवे स्टेशन के पास की है। यहां 107 टेरिटोरियल आर्मी का कैम्प है। लगातार हो रही बारिश की वजह से यहां लैंडस्लाइड हुई। जिसकी चपेट में आर्मी का कैम्प आ गया और बड़ी संख्या में जवान उसके नीचे दब गए। हादसे के बाद राहत बचाव का कार्य शुरु किया गया है। अब तक इस हादसे में 7 जवानों के मारे जाने की खबर है। उनका शव बाहर निकाल लिया गया है। वहीं बड़ी संख्या में अभी जवान दबे पड़े हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि इस प्राकृतिक हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

उधर राहत एवं बचाव दल ने 13 जवानों का रेस्क्यू कर लिया है। जिन्हें इलाज के लिए नोनी आर्मी मेडिकल यूनिट ले जाया गया है। जहां उनका इलाज जारी है।

वहीं मदद के लिए सेना के हेलीकॉप्टर भी नोनी पुहंच गए हैं। एक अधिकारी के मुताबिक खराब मौसम की वजह से रेस्क्यू मिशन में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

उधर जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर आस-पास के गांवों में रहने वाले ग्रामीणों को सावधान रहने के लिए कहा है। जिला प्रशासन ने एडवायजरी जारी कर सभी को जगह खाली कर सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कहा गया है। जारी एडवाजयरी में कहा गया है कि मलबे की वजह से इजाई नदी ब्लॉक हो गई है। जिससे एक ही जगह पर जल भराव के कारण बांध जैसी स्थिति बन गई है। अगर यह टूट गया तो निचले इलाकों में और ज्यादा तबाही मच सकती है।

आपको बता दें पिछले कई दिनों से असम, मणिपुर समेत कई पूर्वोत्तर राज्यों में लगातार हो रही बारिश की वजह से बाढ़ के हालात बने हुए हैं। असम में पिछले 10 दिनों में 135 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं लाखों लोग बाढ़ की वजह से प्रभावित हुए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और सिक्किम में आगे भी बारिश के आसार बने हुए हैं।


Related post

अमरनाथ ‘जल सैलाब’ में मरने वालों के बढ़ सकते हैं आंकड़े, अब तक 16 की मौत, 40 लापता

अमरनाथ ‘जल सैलाब’ में मरने वालों के बढ़ सकते…

नई दिल्ली। दक्षिण कश्मीर में स्थित अमरनाथ गुफा (Amarnath Cave) के पास बादल फटने से आए जल सैलाब में कई लोग…
बोरवेल में फंसे राहुल की जान बचाने वाले से सीएम ने पूछा – डर नहीं लगा, युवक ने कहा…

बोरवेल में फंसे राहुल की जान बचाने वाले से…

रायपुर। जांजगीर-चांपा जिले के पिहरीद गांव में बोर में फंसे 11 वर्षीय बच्चे राहुल की जान जिसने बचाई उसका नाम है…
बोरवेल में फंसे बच्चे के रेस्क्यू ऑपरेशन पर बनेगी डाक्यूमेंट्री फिल्म, राहुल को बचाने वाली टीम को सीएम ने किया सम्मानित

बोरवेल में फंसे बच्चे के रेस्क्यू ऑपरेशन पर बनेगी…

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि जांजगीर-चांपा जिले के बोरवेल में फंसे बच्चे को निकालने के लिए चलाए गए…