छत्तीसगढ़ के इस जिले में डायरिया का कहर, एक ही गांव के 100 लोग हुए बीमार

छत्तीसगढ़ के इस जिले में डायरिया का कहर, एक ही गांव के 100 लोग हुए बीमार
Spread the love

छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में इन दिनों डायरिया का कहरा बढ़ता जा रहा है. यहां एक गांव के करीब 100 लोग डायरिया की चपेट में आ गए हैं. जिनका स्वास्थ्य विभाग शिविर लगाकर इलाज कर रहा है.

दरअसल, पूरा मामला जिले के कुरूद क्षेत्र के ग्राम मडेली का है. जहां तीन दिनों से पूरे गांव में डायरिया फैल गया है. बताया जा रहा है कि नल जल के पाइप लाइन में लीकेज की वजह से घरों में गंदा पानी आ रहा था, जिसके बाद मडेली के करीब 100 लोग इसके चपेट में आ गए.

वहीं स्वास्थ्य विभाग को उपचार के लिए गांव में शिविर लगाना पड़ा है. जहां लगभग 100 ग्रामीणों का इलाज जारी है. साथ ही स्वास्थ्य अमले ने गांव में जरूरी दवाइओं का भी वितरण किया है, जिससे बाकी लोग इसकी चपेट न आएं.

क्या है डायरिया

डायरिया एक आम समस्या है. डायरिया होने पर मल काफी पतला या पानी की तरह निकलता है. कई मामलों में डायरिया के कारणों का पता नहीं चल पाता. डायरिया कई कारणों से हो सकता है जैसे फूड पॉइजनिंग या एलर्जी, दवाइयों के सेवन आदि की वजह से. वैसे तो डायरिया के कोई लक्षण नजर नहीं आते लेकिन कई बार डायरिया होने पर थकान, उल्टी, पेट में दर्द या वजन कम होने जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं. हालांकि, गंभीर दस्त आपके जीवन के लिए खतरा हैं. 5 साल से कम उम्र के बच्चों में डायरिया मौत का दूसरा प्रमुख कारण है. इसे संख्या में दिखाने के लिए, एक शोध के आंकड़े बताते हैं कि इस विशेष आयु वर्ग के 7,00,000 से अधिक बच्चे डायरिया से मरते हैं, जो इस आयु वर्ग में मृत्यु का दूसरा प्रमुख कारण है.

डायरिया के लक्षण

डायरिया की समस्या होने पर आपको पेट में दर्द या मरोड़, ब्लोटिंग, थकान, उल्टी, बुखार, मल से खून आना, मल से पस आने जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.

इसे भी पढ़ें: ज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी मामले में 29 सितंबर को होगी अगली सुनवाई, मुस्लिम पक्ष को नोटिस जारी

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने पार्टी अध्यक्ष पद चुनाव के लिए अधिसूचना की जारी, मतदान और परिणाम तक की यहां देखें पूरी डिटेल्स

इसे भी पढ़ें: नाबालिग के साथ 5 दरिंदों ने किया गैंगरेप, वारदात के बाद बगैर कपड़े के सड़क पर छोड़ा, नग्न अवस्था में भागी, VIDEO वायरल