• 15/09/2022

इस सरकार ने आवारा कुत्तों को मारने के लिए SC से मांगी इजाजत, हलफनामा दायर

इस सरकार ने आवारा कुत्तों को मारने के लिए SC से मांगी इजाजत, हलफनामा दायर

केरल की सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर कर आवारा और हिंसक प्रवृत्ति के कुत्तों को जान से मारने की इजाजत मांगी है. केरल सरकार ने अपने हल्फनामें में बताया कि बीते 5 सालों में 8 लाख लोगों को आवारा कुत्तों ने अपना शिकार बनाया है.

हल्फनामें में बताया गया कि इस साल ही केरल में 1.2 लाख लोगों को आवारा कुत्तों ने काटा है. केरल की सरकार ने रेबीज जैसे खतरनाकरोग से संक्रमित कुत्तों को भी जान से मारने की अनुमति मांगी है. साल 2022 के अगस्त महीने तक रेबीज के चलते 14 मौत के मामले सामने आए हैं.

केरल के मंत्री एमबी राजेश ने कहा कि 20 सितंबर से 20 अक्टूबर तक कुत्तों का टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा. उन्होंने कहा कि स्थिति वास्तव में गंभीर है. हमने बढ़ते कुत्ते के काटने के मामलों को रोकने के लिए कई योजनाएं तैयार करने का फैसला किया है.

सुप्रीम कोर्ट  ने सरकार को आवारा कुत्तों को ट्रैक करने के लिए चिप्स लगाने का भी सुझाव दिया. जस्टिस खन्ना ने कहा कि ‘हम में से अधिकतर लोगों को कुत्तों से प्यार है. मैं खुद भी कुत्तों को खाना खिलाता हूं. मैं कुत्तों को भी खिलाता हूं उन्हें टहलाता हूं. इनमें से कुछ गुस्सैल स्वभाव के हैं. ऐसे में समस्या के समाधान के लिए सोच-समझकर कोई रास्ता निकालना होगा. ऐसे कुत्तों को अलग करना पड़ेगा.’

इसे भी पढ़ें: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में EOW कार्यालय पहुंची नोरा फतेही, घंटों हो सकती है पूछताछ

इसे भी पढ़ें: BREAKING: यात्रियों से भरी बस गहरी खाईं में गिरी, 4 लोगों की दर्दनाक मौत

इसे भी पढ़ें: पुलिस ने बाहुबली मुख्तार अंसारी को कोर्ट में किया पेश, इस मामले में होगी सुनवाई

इसे भी पढ़ें: कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) का परिणाम आज रात 10 बजे होगा जारी, ऐसे चेक करें अपना रिजल्ट


Related post

नोटबंदी के खिलाफ दायर याचिकाओं पर 12 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई, 5 जजों की संविधान पीठ सुनेगी मामला

नोटबंदी के खिलाफ दायर याचिकाओं पर 12 अक्टूबर को…

नोटबंदी पर दायर याचिकाओं पर आज 6 बाद सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. अब सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ 12 अक्टूबर…