• 03/06/2022

आर्य समाज के विवाह प्रमाण पत्र को स्वीकार करने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार, कहा- उन्हें अधिकार नहीं

आर्य समाज के विवाह प्रमाण पत्र को स्वीकार करने से सुप्रीम कोर्ट का इंकार, कहा- उन्हें अधिकार नहीं

नई दिल्ली। आर्य समाज द्वारा जारी विवाह प्रमाणपत्र को कानूनी मान्यता देने से सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि आर्य समाज का काम विवाह प्रमाण पत्र जारी करना नहीं है। यह काम सक्षम प्राधिकरण द्वारा किया जाता है। सुप्रीम कोर्ट की यह टिप्पणी नाबालिग लड़की के अपहरण और रेप से जुड़े एक मामले में आरोपी की जमानत अर्जी की सुनवाई के दौरान की।

इसे भी पढ़ें : राज्यसभा चुनाव : राजीव शुक्ला और रंजीत रंजन निर्विरोध निर्वाचित

मामला प्रेम विवाह का है। लड़की के परिजनों ने लड़के के खिलाफ रेप और अपहरण की एफआईआर दर्ज कराई थी। लड़के ने आर्य समाज द्वारा जारी विवाह प्रमाण पत्र कोर्ट में प्रस्तुत किया। युवक का कहना है कि लड़की बालिग है और मर्जी से आर्य समाज में शादी की है। मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने लड़के द्वारा दी गई दलील को खारिज कर दिया।

इसे भी पढ़ें : कश्मीर फाइल देखने की फुर्सत थी लेकिन अब हिन्दू मारे जा रहे हैं तो BJP और RSS मौन क्यों- भूपेश बघेल

सुप्रीम कोर्ट ने आर्य समाज द्वारा जारी विवाह प्रमाण पत्र को भी मानने से इंकार कर दिया। कोर्ट ने कहा कि आर्य समाज का काम विवाह प्रमाण पत्र जारी करना नहीं है। विवाह प्रमाण पत्र सक्षम प्राधिकरण द्वारा जारी किया जाता है। इसलिए असली प्रमाण पत्र प्रस्तुत करें। इस मामले में अप्रैल में मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करने के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार हो गया था।

इसे भी पढ़ें : स्वाद-सेहत से भरपूर इस चावल में आयरन, फोलिक एसिड और विटामिन बी-12 है भरपूर, इन जिलों की राशन दुकान में है उपलब्ध


Related post

परिवार में भी नहीं सुरक्षित बच्चियां, चचेरे दादा ने किया 7 वर्षीय मासूम के साथ रेप

परिवार में भी नहीं सुरक्षित बच्चियां, चचेरे दादा ने…

देश में छोटी बच्चियों और महिलाओं के प्रति हो रहे यौन हिंसा के अपराध लगातार बढ़ते जा रहे हैं। आलम यह…
BREAKING : बीजेपी ने मोहन मरकाम के खिलाफ कांकेर के सभी थानों में की शिकायत, करी मांग पीसीसी अध्यक्ष के ऊपर दर्ज हो पॉक्सो एक्ट का अपराध

BREAKING : बीजेपी ने मोहन मरकाम के खिलाफ कांकेर…

रायपुर। बीजेपी ने भानुप्रतापपुर से अपने प्रत्याशी ब्रम्हानंद नेताम के ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया है। कांग्रेस ने ब्रह्मानंद नेताम…
प्राइवेट पार्ट में टूटी बोतल डाली, आखें निकालकर तेजाब भर दिया, गैंगरेप के तीनों दोषी सुप्रीम कोर्ट से बरी

प्राइवेट पार्ट में टूटी बोतल डाली, आखें निकालकर तेजाब…

दिल्ली के छावाला इलाके की एक 19 वर्षीय युवती को किडनैप कर उसके साथ गैंगरेप और निर्ममता से हत्या के मामले…