• 04/05/2022

अपनी सरकार की जमीनी हकीकत जानने उड़न खटोले पर मुख्यमंत्री, 28 दिन में पहुंचेंगे 270 गांव

अपनी सरकार की जमीनी हकीकत जानने उड़न खटोले पर मुख्यमंत्री, 28 दिन में पहुंचेंगे 270 गांव

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 2023 में विधानसभा चुनाव होना है। तकरीबन डेढ़ साल बाद होने वाले चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों की तैयारियां शुरु हो गई है। आरोप प्रत्यारोप के साथ ही राजनीतिक शह-मात का खेल शुरु हो चुका है। सूबे की भूपेश बघेल सरकार भी अब चुनावी मोड में नजर आ रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी सरकार के कामकाज की जमीनी हकीकत जानने के लिए प्रदेश भर का दौरा करेंगे।

अपने दौरे के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी सरकार के जनहित के कार्यों के क्रियान्वयन, विधायकों, मंत्रियों के कामकाज का फीडबैक लेंगे और पार्टी कार्यकर्ता से भी भेंट-मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे और प्रत्येक विधानसभा के तीन गांवों में पहुंचेंगे। अलग-अलग चरणों में मुख्यमंत्री 28 दिन की अपनी यात्रा पर 270 गांवों में पहुंचेंगे। इस दौरान उनके साथ प्रभारी मंत्री, स्थानीय विधायक भी मौजूद रहेंगे।

बुधवार 4 मई से मुख्यमंत्री ने इसका आगाज टीएस सिंहदेव के गढ़ सरगुजा से कर दिया है। लगभग एक महीने के प्रदेश व्यापी दौरे की शुरुआत उन्होंने बलरामपुर जिले से की है। आज वे मुख्य सचिव अमिताभ जैन और प्रभारी मंत्री शिव डहरिया के साथ ही सामरी विधानसभा के कुसमी, शंकरगढ़ और इसके बाद बरियो पहुंचेंगे।

इसे भी पढ़ें : ट्विटर इस्तेमाल करने के लगेंगे पैसे, एलन मस्क ने किया ये बड़ा ऐलान

अपने दौरे की शुरुआत करने से पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इसे कतई औचक निरीक्षण मत समझिए। दो दिन से पहले से सबको पता है कि कहां-कहां जाना है। शासकीय कार्यालय में जाऊंगा, आम जनता से मुलाकात होगी। लोगों के साथ बैठकर शासकीय योजनाओं का फीडबैक लिया जाएगा। जनप्रतिनिधियों से भी चर्चा होगी। विधायक और प्रभारी मंत्री साथ में रहेंगे ही। जिला मुख्यालय में विश्राम करेंगे जहां पार्टी के पदाधिकारियों ब्लॉक लेवल के कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात होगी।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना के कारण एक लंबे अरसे से लोगों के बीच जा नही पाए थे। हालांकि पिछले वर्ष सामाजिक संगठनों की बैठक में शामिल होने का मौका मिला। भ्रमण के दौरान शासकीय योजनाओं की धरातल पर स्थिति की जानकारी लूंगा। आम जनता से और जनप्रतिनिधियों से मिलने से योजनाओं के बारे में जानकारी मिलती है। क्या संशोधन होना चाहिए, क्या जुड़ना चाहिए, इसकी जानकारी मिलती है। भ्रमण के दौरान गांवों में हुए अच्छे कार्यो के साथ वहां की समस्याओं के बारे में भी जानकारी मिलेगी।

इसे भी पढ़ें : ख़ास-ख़बर : ‘अक्ति’ से CM भूपेश बघेल को शक्ति, ‘माटी पूजन’ के साथ मिशन-2023 का आगाज़

 


Related post

BREAKING : न्यूजीलैंड और भारत क्रिकेट मैच की मेजबानी मिली छत्तीसगढ़ को, इस तारीख को खेला जाएगा वन डे मैच

BREAKING : न्यूजीलैंड और भारत क्रिकेट मैच की मेजबानी…

न्यूजीलैंड और भारत के बीच खेले जाने वाले वन डे क्रिकेट मैच का बीसीसीआई (BCCI) ने शेड्यूल जारी कर दिया है।…
बड़ा झटका : RBI ने बढ़ाई 0.35 फीसदी ब्याज दरें, बढ़ जाएगी EMI

बड़ा झटका : RBI ने बढ़ाई 0.35 फीसदी ब्याज…

महंगाई से जूझ रही जनता को फिर एक बड़ा झटका लगा है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक बार फिर रेपो…
मीराबाई चानू ने रचा इतिहास, वेटलिफ्टिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में ओलंपिक गोल्ड विजेता को पछाड़ जीता सिल्वर

मीराबाई चानू ने रचा इतिहास, वेटलिफ्टिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में…

ओलंपिक पदक विजेता भारत की स्टार वेटलिफ्टर मीरा बाई चानू ने वेटलिफ्टिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया…