• 04/06/2022

12 हजार मनरेगा कर्मचारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, मचा हड़कंप

12 हजार मनरेगा कर्मचारियों ने दिया सामूहिक इस्तीफा, मचा हड़कंप

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 12 हजार मनरेगा कर्मचारियों ने एक साथ सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। इतने बड़ी तादाद में इस्तीफे की वजह 21 कर्मचारियों की बर्खास्तगी है। कर्मचारियों के एक साथ इस्तीफा देने से हड़कंप मच गया है।

इससे पहले प्रदेश के अलग-अलग जिलों से बड़ी संख्या में मनरेगा कर्मी रायपुर पहुंचे और बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थ्ल में इकट्ठा हुए। वहां से सभी सप्रे शाला की ओर रवाना हुए। जहां पुलिस ने सभी को बीच रास्ते में ही रोक दिया। जिसके बाद सभी सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। सड़क पर धरना दे रहे कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की और साथ में लाए 12 हजार कर्मचारियों के सामूहिक इस्तीफे का बंडल अधिकारियों को सौंप दिया।

इसे भी पढ़ें : ओडिशा में बड़ा फेरबदल, नवीन पटनायक के सभी मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

आंदोलनकारी मनरेगा कर्मचारियों ने 21 कर्मचारियों के बर्खास्तगी के आदेश को संवैधानिक अधिकारों का हनन बताया है। उन्होंने बर्खास्तगी के आदेश की प्रतियां जलाकर अपना विरोध जताया। कर्मचारियों ने कहा कि उनका ये आंदोलन तब तक चलता रहेगा जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती। कर्मचारियों ने कहा कि 21 लोगों को इसलिए बर्खास्त किया गया ताकि ये आंदोलन हम बंद कर दे।

इसे भी पढ़ें : कानपुर हिंसा : एनकाउंटर स्पेशलिस्ट IPS अजय पाल ने संभाली कमान, मुख्य आरोपी हयात जफर सहित 37 गिरफ्तार

आपको बता दें मनरेगा कर्मी पिछले दो महीने से लगातार आंदोलन कर रहे हैं। वे दूसरे प्रदेशों के ही जैसे नियमितीकरण किए जाने की मांग कर रहे हैं। इसके साथ ही उनका कहना है कि कांग्रेस ने अपने चुनावी जन घोषणा पत्र में मनरेगा कर्मियों को नियमितीकरण किए जाने का वादा किया था। वो अपने वादे को निभाते हुए नियमितीकरण करें।

इसे भी पढ़े : प्लांट में बड़ा हादसा : बॉयलर फटने से 9 की मौत, PM मोदी ने जताया दुख


Related post