• 23/08/2022

छत्तीसगढ़ के अफसरों को बीजेपी की खुली चेतावनी, नितिन नबीन बोले- दबंगई दिखाई तो भारी नुकसान उठाना पड़ेगा

छत्तीसगढ़ के अफसरों को बीजेपी की खुली चेतावनी, नितिन नबीन बोले- दबंगई दिखाई तो भारी नुकसान उठाना पड़ेगा

24 अगस्त को होने वाले आंदोलन से पहले भाजपा के प्रदेश सह प्रभारी नितिन नबीन ने अफसरों को खुली चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि अगर आंदोलन में शामिल युवाओं को किसी भी तरह से परेशान किया जाएगा तो यह आंदोलन दूसरा रूप ले लेगा। प्रशासन के लोग यदि दबंगई करेंगे तो उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। इसे लोकतांत्रिक तरीके से चलने दें। नितिन नबीन ने 24 अगस्त को होने वाले आंदोलन की तैयारी को लेकर सोमवार देर शाम प्रदेश कार्यालय में बैठक ली। जिसके बाद उनके निशाने पर प्रदेश के अफसर थे।

दरअसल आंदोलन को लेकर बीजेपी के पदाधिकारियों और प्रशासन के अफसरों के बीच लगातार कई घंटों की बैठकें हो चुकी है। आंदोलन की अनुमति को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। जिसकी वजह से बीजेपी और प्रशासन के बीच खींचतान बना हुआ है। कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भूरे ने भी कहा है कि अनुमति के बाद अगर ऐन मौके पर कोई बदलाव हुआ तो सख्त कार्रवाई करेंगे।

नितिन नबीन ने कहा कि 24 अगस्त के बाद से कांग्रेस की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। इस दिन को कांग्रेस याद रखेगी। भत्ते के नाम पर बेरोजगार युवाओं को धोखा दिया गया है। युवा इसका बदला लेंगे। प्रदेश भर से युवा रायपुर आ रहे हैं और भाजपा के साथ मिलकर हल्ला बोलेंगे।

आपको बता दें 24 अगस्त को भाजयुमो का राजधानी रायपुर में बड़ा आंदोलन है। आंदोलन में शामिल होने के लिए भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या भी रायपुर आ रहे हैं। साथ ही आंदोलन में पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह, प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी सहित बीजेपी के तमाम बड़े नेता भी सड़क पर उतरेंगे।

गौरतलब है कि 2023 को राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं। सत्ता हाथ से जाने के बाद से बीजेपी का यह पहला सबसे बड़ा आंदोलन होगा। इससे पहले पार्टी के भीतर सियासी उलटफेर करते हुए प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय को हटाकर अरूण साव के हाथ में पार्टी की कमान सौंपी थी। वहीं धरमलाल कौशिक की जगह नारायण चंदेल को नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी सौंप चुकी है। इस आंदोलन के जरिए बीजेपी मिशन 2023 का आगाज करने जा रही है। आऩे वाले समय में प्रदेश का सियासी पारा और भी बढ़ने की उम्मीद है।

इसे भी पढ़ें : जेएनयू में स्कॉलरशिप के पैसे मांगने गए छात्रों के साथ मारपीट, आधा दर्जन घायल


Related post

BJP प्रत्याशी पर दुष्कर्म के आरोप पर पार्टी का दावा – पीड़िता ने न्यायाधीश के समक्ष 164 के बयान में नहीं लिया ब्रह्मानंद नेताम का नाम

BJP प्रत्याशी पर दुष्कर्म के आरोप पर पार्टी का…

रायपुर। प्रदेश भाजपा ने भानुप्रतापपुर विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशी पर लगाए जा रहे संगीन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया…
CG के इस जिले में एक ही कमरे में चल रहा पूरा स्कूल, अव्यवस्थाओं के बीच पढ़ने को मजबूर बच्चे

CG के इस जिले में एक ही कमरे में…

छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार शिक्षा को लेकर लाख दावे कर ले, लेकिन हकीकत इससे परे हैं. इसका ताजा उदाहरण सरगुजा जिले…
Live-in-Relationship की अनोखी प्रेम कहानी: 30 साल लिव-इन के बाद 67 की उम्र में जोड़े ने की शादी, आशीर्वाद देने पहुंचे 4 गांव के लोग

Live-in-Relationship की अनोखी प्रेम कहानी: 30 साल लिव-इन के…

मोहब्बत कभी जाति-धर्म, ऊंच-नीच नहीं देखता है और न ही किसी बंधन का मोहताज होता है. इसका एक बेमिशाल उदाहरण छत्तीसगढ़…