• 12/07/2022

PCC की बैठक में मोहन मरकाम ने कहा कुछ ऐसा कि जमकर भड़के CM भूपेश बघेल, छा गया सन्नाटा

PCC की बैठक में मोहन मरकाम ने कहा कुछ ऐसा कि जमकर भड़के CM भूपेश बघेल, छा गया सन्नाटा

रायपुर। आज राजीव भवन में उस वक्त लोग कुछ समय के लिए सकते में आ गए जब कई पदाधिकारियों की अनुपस्थिति पर PCC प्रमुख ने अपनी गहरी नाराजगी जताई। इसी दौरान CM भूपेश बघेल ने यह कहकर सबको चौंका दिया कि यदि कार्यकर्ता उपस्थित नहीं हैं तो इसके पीछे कारण होगा, ऐसे नाराजगी दिखाने से काम नहीं चलेगा। अनुपस्थिति कार्यकर्ताओं से बात करने के बाद ही उन पर कोई एक्शन लिया जाना चाहिए।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आज संगठन चुनाव को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक में CM भूपेश बघेल, PCC प्रमुख मोहन मरकाम, कांग्रेस के निर्वाचन अधिकारी हुसैन उमर दलवाई विशेष रूप से उपस्थित थे। बैठक के दौरान PCC प्रमुख मोहन मरकाम ने कई पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की अनुपस्थिति पर अपनी गहन नाराजगी जताई। इस पर CM भूपेश बघेल ने भी तीखे तेवर करते हुए कहा कि कई लोग पार्टी छोड़कर चले गए लेकिन पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ता।

गुजरात मॉडल फेल, देश में अब छत्तीसगढ़ मॉडल का बोलबाला, बीजेपी पर सीएम भूपेश का तंज

यदि कार्यकर्ता अथवा पदाधिकारी बैठक में उपस्थित नहीं हैं तो इसके पीछे कोई कारण जरूर होगा। इस तरह कार्यकर्ताओं पर नाराजगी जताने से काम नहीं चलेगा। यदि कार्यकर्ता काम नहीं कर रहे हैं तो उनसे बातचीत की जा सकती है। कार्यकर्ताओं को नोटिस जारी करने के पहले उनकी अनुपस्थिति का कारण जानना जरूरी है। CM बघेल ने यह भी कहा कि केवल मुख्यमंत्री या प्रदेश अध्यक्ष को ही बोलने या सवाल उठाने का हक नहीं है। कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हर कार्यकर्ता को अपनी बात रखने और कहने का पूरा अधिकार है। CM बघेल ने कहा कि यदि सवाल उठता है तो उसका समाधान भी होना चाहिए, क्योंकि हम सब एक ही परिवार के सदस्य है।

इसे भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ के इन इलाकों में कल भारी से अतिभारी बारिश के आसार

यदि परिवार का कोई एक सदस्य नाराज हैं तो बाकी सदस्यों का दायित्व बनता है कि उससे बातचीत कर उसकी नाराजगी दूर की जाए। बताया जाता है कि CM बघेल BRO की लिस्ट जारी नहीं होने पर नाराज थे। इसी बीच PCC प्रमुख द्वारा भी नाराजगी जताने पर वे और ज्यादा नाराज हो गए। कहा जाता है कि उन्होंने यहां तक कह दिया कि यदि इसी तरह से काम होता रहा तो वे बैठकों में अब शामिल नहीं होंगे। कांग्रेस पार्टी से जुड़े सूत्रों की माने तो यह पहला मौका नहीं है जब PCC प्रमुख मोहन मरकाम और CM भूपेश बघेल ने इस तरह से अपनी नाराजगी जाहिर की हो। इसके पूर्व भी इसी तरह चुनाव के दौरान दोनों नेताओं के मध्य विचारों को लेकर कहासुनी हो चुकी है। हालांकि आज के कहासुनी के बाद CM बघेल ने यह कहते हुए इस कहासुनी को विराम दे दिया कि वे सभी एक ही परिवार के सदस्य हैं, ऐसे में इस तरह के वाक्ये होते ही रहते हैं।

इसे भी पढ़ें –AICC ने सीएम भूपेश और सिंहदेव को दी ये बड़ी जिम्मेदारी


Related post

Weather Update Today: पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी से गिर रहा तापमान, इन राज्यों में बढ़ेगा सर्दी का सितम, जानिए CG में कैसा रहेगा मौसम

Weather Update Today: पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी से गिर…

उत्तर भारत के राज्यों में ठंड की शुरुआत होने लगी है. ज्यादातर जगहों पर सुबह-सुबह कोहरा नजर आने लगा है. तापमान…
Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से लुढ़का पारा, छत्तीसगढ़ समेत इन राज्यों में इस साल ज्यादा पड़ेगी ठंड

Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से…

पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही है. जिस कारण मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने लगी है. दिल्ली, छत्तीसगढ़ समेत अन्य…
BREAKING : बीजेपी ने मोहन मरकाम के खिलाफ कांकेर के सभी थानों में की शिकायत, करी मांग पीसीसी अध्यक्ष के ऊपर दर्ज हो पॉक्सो एक्ट का अपराध

BREAKING : बीजेपी ने मोहन मरकाम के खिलाफ कांकेर…

रायपुर। बीजेपी ने भानुप्रतापपुर से अपने प्रत्याशी ब्रम्हानंद नेताम के ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया है। कांग्रेस ने ब्रह्मानंद नेताम…