• 05/07/2022

राहुल गांधी के खिलाफ फेक न्यूज पर आपस में भिड़ी पुलिस, तीसरी ले गई एंकर को

राहुल गांधी के खिलाफ फेक न्यूज पर आपस में भिड़ी पुलिस, तीसरी ले गई एंकर को

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ फेक न्यूज चलाने के मामले में जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन आज नाटकीय ढंग से गिरफ्तार हो गए हैं। रोहित रंजन को गिरफ्तार करने के लिए पहुंची छत्तीसगढ़ पुलिस और गाजियाबाद की पुलिस आपस में भिड़ गई। दोनों राज्यों की पुलिस के बीच जमकर बहस हुई और नौबत धक्का मुक्की तक पहुंच गई। इसी दौरान नोएडा पुलिस की भी एंट्री हो गई। मौके पर पहुंची नोएडा पुलिस रोहित रंजन को हिरासत में लेकर अपने साथ ले गई।

छत्तीसगढ़ पुलिस मंगलवार सुबह तकरीबन 5:30 बजे एंकर रोहित रंजन के इंदिरापुरम निवास पुहंची। जिस पर एंकर ने रोहित ने 6:16 बजे ट्वीट कर UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, ASP गाजियाबाद और ADG जोन लखनऊ से मदद मांगी। रोहित ने ट्वीट कर कहा, “बिना लोकल पुलिस को जानकारी दिए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे अरेस्ट करने के लिए खड़ी है, क्या ये क़ानूनन सही है।”

रोहित रंजन के ट्वीट का जवाब छत्तीसगढ़ पुलिस ने भी ट्वीट से ही दिया। छत्तीसगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि अगर वारंट है तो किसी को सूचित करने की जरूरत नहीं है। रायपुर पुलिस ने ट्वीट करके कहा, “सूचित का ऐसा कोई नियम नहीं है. हालांकि, अब उन्हें सूचना मिल चुकी है। पुलिस टीम ने आपको कोर्ट का गिरफ्तारी वारंट दिखाया। आपको सहयोग करना चाहिए, जांच में शामिल होना चाहिए और अपना बचाव अदालत में रखना चाहिए।”

इसी बीच गाजियाबाद पुलिस ने भी ट्वीट कर रोहित से कहा कि मामला उनके संज्ञान में है और वह जरूरी कार्रवाई कर रहे हैं। करीब साढ़े छह बजे इंदिरापुरम पुलिस रोहित के घर के बाहर पहुंच गई।

जिसके बाद गाजियाबाद पुलिस ने छत्तीसगढ़ की रायपुर पुलिस के सामने आपत्ति दर्ज की और बगैर उनकी इजाजत के गिरफ्तारी को लेकर दोनों राज्यों की पुलिस के बीच बहस शुरु हो गई। दोनों राज्यों की पुलिस आपस में भिड़ गई, इसी दौरान नोएडा पुलिस की एंट्री हुई और उसने रोहित को गिरफ्तार कर लिया। नोएडा पुलिस का कहना था कि उनके यहां रोहित के खिलाफ पहले से अपराध दर्ज है। लेकिन नोएडा पुलिस इस बात का जवाब नहीं दे पाई कि उनके यहां केस रजिस्टर्ड कब हुआ।

आपको बता दें केरल के वायनाड में सांसद राहुल गांधी के कार्यालय पर हमला हुआ था। राहुल गांधी ने हमलावर युवाओं पर बयान दिया था। जिसे जी न्यूज के एंकर ने अपने डीएनए शो में राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या से जोड़ते हुए चलाया। इसके बाद छत्तीसगढ़ और राजस्थान में एंकर के खिलाफ अपराध दर्ज किया था। डीएनए के इस शो के वीडियो राज्यवर्धन सिंह राठौर समेत कई बीजेपी नेताओं ने अपने सोशल मीडिया पेज पर शेयर किया था। उनके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई थी।

हालांकि बाद में इस मामले में चैनल ने माफी मांगी थी और एंकर ने अपने शो में सफाई देते हुए कहा था, “कल हमारे शो डीएनए में राहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़कर गलत संदर्भ में लिया गया, यह एक मानवीय भूल थी जिसके लिए हमारी टीम माफी मांगती है।”

उधर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एंकर के शो के बाद कहा था कि राहुल गांधी अपने वायनाड कार्यालय पर हमले का जिक्र कर रहे थे, जब उन्होंने कहा, “जिन बच्चों ने ऐसा किया है, उन्हें माफ कर दो। लेकिन जिस तरह से टीवी चैनल और एंकर ने वीडियो चलाया, उससे ऐसा लगता है कि राहुल गांधी कह रहे हैं कि उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या करने वाले बच्चे थे और उन्हें माफ कर दिया जाना चाहिए।”

इसे भी पढ़ें : होटल रेस्तरां नहीं ले सकेंगे सर्विस चार्ज, मनमानी की तो यहां करें शिकायत


Related post

BIG BREAKING: मल्लिकार्जुन खड़गे बने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष, शशि थरूर को दी इतने वोटों से मात, देखिए दलित परिवार में जन्म से राष्ट्रीय अध्यक्ष तक का कांटो भरा सफर

BIG BREAKING: मल्लिकार्जुन खड़गे बने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष,…

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी को 24 साल बाद नेहरू-गांधी परिवार के बाहर से पहली बार राष्ट्रीय अध्यक्ष मिल गया है. मंगलवार…
गहलोत की विदाई तय! विधायक दल की होगी बैठक, आलाकमान ने तय किया CM का नाम

गहलोत की विदाई तय! विधायक दल की होगी बैठक,…

राजस्थान में सियासी संकट के बीच कांग्रेस सरकार के भविष्य पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। सवाल एक ही है कि…
शशि थरूर, दिग्विजय सिंह आज नामांकन करेंगे दाखिल, मल्लिकार्जुन खड़गे की भी हुई एंट्री

शशि थरूर, दिग्विजय सिंह आज नामांकन करेंगे दाखिल, मल्लिकार्जुन…

कांग्रेस के अध्यक्ष पद चुनाव को लेकर लगातार सियासत जारी है. उम्मीदवारों की रेस से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बाहर होने…