• 24/09/2022

Lumpy Virus: छत्तीसगढ़ में लंपी वायरस का संदिग्ध केस आया सामने, चपेट में कई और मवेशी, जांच के लिए भेजा गया सैंपल

Lumpy Virus: छत्तीसगढ़ में लंपी वायरस का संदिग्ध केस आया सामने, चपेट में कई और मवेशी, जांच के लिए भेजा गया सैंपल

देश के कई राज्यों में लंपी वायरस (Lumpy Virus) का खतरा बढ़ता जा रहा है. इसी बीच छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दुर्ग जिले में एक मवेशी में लंपी वायरस के लक्षण मिले हैं. जिसकी पुष्टि पशु विभाग के डॉक्टरों ने की है. ऐसे में प्रदेश में इस वायरस का खतरा बढ़ गया है.

पशु चिकित्सा विभाग के मुताबिक अब तक प्रदेश में एक ही पशु में लंपी वायरस के लक्षण मिले हैं. जिसका ब्लड सैंपल रायपुर भेजा गया है. जहां से उसे भोपाल भेजा जाएगा.

बहरहाल, लैब में जांच के बाद ही तय हो पाएगा कि संदिग्ध मवेशी में लंपी के वायरस है या नहीं. साथ ही 3 और मवेशियों के सैंपल भी भेजे गए हैं.

वहीं कामधेनु विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और पशु चिकित्सक डॉ. एसके मैती ने बताया कि जिले में कुछ और मवेशियों में भी इसके लक्षण मिले हैं.

बता दें कि लंपी वायरस का खतरा सबसे ज्यादा राजस्थान में है. जिसके बाद संक्रमण महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश राज्यों में काफी अधिक है. इन राज्यों से छत्तीसगढ़ के लगे होने से इस वायरस के फैलने की आशंका जताई जा रही है.

क्या है लंपी वायरस

यह बीमारी एक संक्रामक रोग विषाणु जनित बीमारी है. यह बीमारी गोवंशीय एंव महिषवंशीय पशुओं में पायी जाती है. इस रोग का संचरण/फैलाव/प्रसार पशुओ में मक्खी, चिचडी एंव मच्छरों के काटने से होता है. इस बीमारी से संक्रमित पशुओ में हल्का बुखार हो जाता है. पूरे शरीर पर जगह-जगह नोड्यूल/ गांठे उभर आती है.इस बीमारी से ग्रसित पशुओं की मृत्यु दर अनुमान 1 से 5 प्रतिशत होता है.

इसे भी पढ़ें : गहलोत बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष और पायलट के सिर CM का ताज! छत्तीसगढ़ में सिंहदेव…

इसे भी पढ़ें : डॉलर के मुकाबले रुपया और हुआ कमजोर, पहली बार 81 का स्‍तर किया पार

इसे भी पढ़ें : राजधानी में धुमाल और डीजे को लेकर हाईकोर्ट सख्त, कलेक्टर और SP को नोटिस किया जारी

इसे भी पढ़ें : BREAKING : विराट अपहरण कांड में आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा, 6 करोड़ की फिरौती के लिए बड़ी मां ने रची थी साजिश


Related post

CG के इस जिले में एक ही कमरे में चल रहा पूरा स्कूल, अव्यवस्थाओं के बीच पढ़ने को मजबूर बच्चे

CG के इस जिले में एक ही कमरे में…

छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार शिक्षा को लेकर लाख दावे कर ले, लेकिन हकीकत इससे परे हैं. इसका ताजा उदाहरण सरगुजा जिले…
IPS मुकेश गुप्ता के प्रमोशन मामले में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, कैट का आदेश निरस्त, पदोन्नति निरस्त करने के आदेश को ठहराया सही

IPS मुकेश गुप्ता के प्रमोशन मामले में हाईकोर्ट का…

IPS मुकेश गुप्ता के प्रमोशन के मामला में छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट का फैसला आ गया है. हाईकोर्ट ने  IPS मुकेश गुप्ता की…
अब हर शनिवार स्कूलों में छत्तीसगढ़ी भाषा में होगी पढ़ाई, शिक्षा विभाग ने बनाई रणनीति

अब हर शनिवार स्कूलों में छत्तीसगढ़ी भाषा में होगी…

रायपुर। छत्तीसगढ़ में शिक्षा विभाग अब हर शनिवार को छत्तीसगढ़ी में पढ़ाई की तैयारी में है. ऐसे में हर शनिवार को…