• 15/05/2022

हजारों करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले आदर्श को-ऑपरेटिव सोसाइटी के डायरेक्टर गिरफ्तार

हजारों करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले आदर्श को-ऑपरेटिव सोसाइटी के डायरेक्टर गिरफ्तार

राजनांदगांव। देश भर में निवेशकों के हजारों करोड़ रुपये का गबन करने वाली आदर्श को-ऑपरेटिव सोसायटी के ऊपर राजनांदगांव पुलिस ने अपना शिकंजा कस दिया है। कंपनी के दो डायरेक्टरों को गिरफ्तार करने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों का नाम राहुल मोदी और मुकेश मोदी है। पुलिस ने आरोपियों को राजस्थान के सिरोही से गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों के खिलाफ राजस्थान के विभिन्न थानों में 150 से ज्यादा अपराध दर्ज हैं। आरोपियों ने अपनी जालसाजी का कारोबार राजस्थान के अलावा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, नई दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में भी फैला रखा था। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में आरोपियों के खिलाफ 3 से 5 करोड़ की धोखाधड़ी करने का अपराध दर्ज है। अकेले राजस्थान में आरोपियों ने 14 हजार करोड़ से ज्यादा की ठगी की है।

पुलिस के मुताबिक आदर्श को-ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड द्वारा राजनांदगांव में 356 लोगों से लगभग 3 से 5 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई है। निवेशकों द्वारा कंपनी में करोड़ों रुपए इन्वेस्ट कराने के बाद कंपनी के कर्मचारी अधिकारी दफ्तर में ताला लगाकर फरार हो गए। आफिस बंद होने और कर्मचारियों द्वारा फोन रिसीव नहीं किए जाने से निवेशकों को अपने साथ धोखाधड़ी का एहसास हुए, जिसके बाद पीड़ितों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। मामले में पुलिस अब आरोपियों से पूछताछ करने के बाद उन्हें रिमांड में लेने की तैयारी कर रही है।

इसे भी पढ़ें : आस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर एंड्रयू साइमंड्स की सड़क दुर्घटना में मौत, मंकी गेट विवाद से आए थे सुर्खियों में

ईडी ने संपत्ति की है अटैच

आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी के खिलाफ ईडी ने भी कार्रवाई की है। ईडी ने सोसाइटी से जुड़ी हुई लगभग 2 हजार करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति को जब्त कर चुकी है। ईडी ने कंपनी के खिलाफ न्यायालय में साल 2019 में 50 हजार पन्नों का चालान पेश किया था। जिसमें 124 से ज्यादा लोगों को आरोपी बनाया गया है। आरोपियों में कंपनी के राहुल मोदी, मुकेश मोदी, प्रियंका मोदी सहित आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी व उसके डायरेक्टरों को आरोपी बनाया था।

इनके खिलाफ भी हो चुकी है कार्रवाई

आपको बता दें राजनांदगांव पुलिस चिटफंड कंपनियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। पुलिस द्वार निवेशकों से धोखाधड़ी करने वाले चिटफंड कंपनियों के डायरेक्टरों की देश भर से धरपकड़ की जा रही है। जिसमें प्रमुख रूप से अनमोल इंडिया के डायरेक्टर, सहारा इंडिया की सहायक कम्पनी के डायरेक्टरो, सनसाईन इन्फ्राबिल्ड के डायरेक्टरो, और आदर्श क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी लिमिटेड के डायरेक्टर की गिरफ्तारी की गई है।

इसे भी पढ़ें : निलंबित IPS जीपी सिंह जेल से रिहा, राजद्रोह सहित कई गंभीर अपराध में थे बंद, देखिए उन्हें लेने कौन-कौन पहुंचे


Related post

VIDEO : जेल में भी मंत्री जी के ठाठ, लॉकअप में मसाज के बाद होटल का खाना खाते आए नजर, बीजेपी बोली- जैसे किसी रिसॉर्ट में हैं

VIDEO : जेल में भी मंत्री जी के ठाठ,…

तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येन्द्र जैन का एक और वीडियो सामने आया है। वीडियो में वे होटल…
बड़ी खबर: राजधानी में 4 लोगों की दर्दनाक हत्या, बेटे ने ही अपने परिवार के 4 सदस्यों को उतारा मौत के घाट

बड़ी खबर: राजधानी में 4 लोगों की दर्दनाक हत्या,…

देश की राजधानी दिल्ली से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है. यहां एक युवक ने अपने परिवार के…
मां के साथ मिलकर बेटे ने की पिता की हत्या, शव को आरी से काटकर लगाया ठिकाने, पुलिस में दर्ज कराई गुमशुदगी की रिपोर्ट

मां के साथ मिलकर बेटे ने की पिता की…

पश्चिम बंगाल से रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली एक घटना सामने आई है. यहां एक बेटे ने अपने नेवी से…