• 29/07/2022

 छत्तीसगढ़ में फिर भूकंप के झटके, बार-बार धरती डोलना आखिर क्या संकेत दे रहा ?

 छत्तीसगढ़ में फिर भूकंप के झटके, बार-बार धरती डोलना आखिर क्या संकेत दे रहा ?

द तथ्य डेस्क। छत्तीसगढ़ की धरती भूकंप से एक बार फिर से हिल गई है। इस बार भूकंप के झटके रिएक्टर पैमाने पर खतरे का अलार्म बजा गया है। प्रदेश के कोरिया जिले में आए भूकंप की तीव्रता 4.6 दर्ज की गई है। इसका केन्द्र बैकुंठपुर में जमीन के नीचे करीब 10 किमी में था। जिले में 18 दिनों के अंदर भूकंप का यह दूसरा झटका था।

इसे भी पढ़ें : सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन नहीं मिलने से 1 नवजात की मौत, 2 गंभीर 

बताया जाता है कि कल रात कालरी क्षेत्र में रात करीब 12 बजकर 58 मिनट पर करीब दो सेकेण्ड के लिए जोरदार झटका महसूस किया गया। भूकंप के झटके से चरचा अंडरग्राउंड माइंस में गोफ गिरने से 2 मजदूर घायल हो गए। उन्हें तत्काल बिलासपुर रेफर किया गया है। इस दौरान माइंस में एक दर्जन से ज्यादा श्रमिक काम कर रहे थे। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के रिपोर्ट के अनुसार इतनी तीव्रता वाले भूकंप में ज्यादा खतरा रहता है।

18 दिनों में दूसरा बड़ा झटका :
कोरिया जिले में बीते 18 दिनों के अंदर भूकंप का यह दूसरा बड़ा झटका था। इसके पहले 11 जुलाई को रिएक्ट पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई थी। कल रात आए भूकंप का अधिकतर लोगों को पता ही नहीं चला है। जानकारी के अनुसार इस बार महसूस किए गए भूकंप का केन्द्र बैकुंठपुर से पश्चिम-उत्तर दिशा में 16 किमी दूर और जमीन से 10 किमी अंदर था। इससे पहले 16 मार्च को भी अंबिकापुर संभाग में भूकंप के झटके महसूस किये गए थे। तब रिक्टर पैमाने पर 3.1 तीव्रता के भूकंप मापा गया था।

इसे भी पढ़ें : रायपुर सेंट्रल जेल में गैंगवार, कैदियों के बीच चले ब्लेड, चाकू 

यह बड़ी चेतावनी जैसा झटका :
भूगर्भ वैज्ञानिकों की माने तो छत्तीसगढ़ में भूकंपीय गतिविधि की जो दर है वह बहुत कम है। वजह ये है कि छत्तीसगढ़ के अधिकांश हिस्से में भूगर्भ में बेहद सख्त आग्नेय चट्टानें हैं। केवल उत्तर छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्से भूगर्भीय संरचना के कारण संवेदनशील हैं। यहां 2.3 तीव्रता वाले भूकंप सामान्य बात है। लेकिन इस बार रिएक्टर पैमाने पर जो आंकड़ा दर्ज किया गया है, वह डराने वाले हैं।
बीते 5 साल से लगातार झटके :
जानकारी के अनुसार कोरिया जिले में इससे पहले 11 जुलाई को 4.3 तीव्रता का भूकंप आया। 12 दिसंबर 2021 को सुबह 9.30 बजे 3.4 तीव्रता के झटके आए थे। 11 अप्रैल 2021 की दोपहर 12.52 बजे उत्तर व मध्य छत्तीसगढ़ में 3.7 तीव्रता का भूकंप आया। चिरमिरी और मनेंद्रगढ़ में 22 फरवरी 2019 में दोपहर करीब 1 बजे 3.5 तीव्रता के झटके महसूस हुए थे।

इसे भी पढ़ें : ट्रेन से हो रही थी बच्चों की तस्करी, आरपीएफ ने दबिश देकर नाबालिगों को छुड़ाया


Related post

अब देश के इस राज्य में महसूस किए गए भूकंप के झटके, दो दिन के भीतर तीन राज्यों में डोली धरती

अब देश के इस राज्य में महसूस किए गए…

देश में भूकंप के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। अब मेघालय में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। गुरुवार…
Alert : यहां सुनामी आने की चेतावनी जारी, लद्दाख में लगे भूकंप के झटके

Alert : यहां सुनामी आने की चेतावनी जारी, लद्दाख…

इंडोनेशिया में तबाही मचाने के बाद अब भारत के लद्दाख में और सोलोमन द्वीप के पास भी शक्तिशाली भूकंप आने की…
BJP प्रत्याशी पर दुष्कर्म के आरोप पर पार्टी का दावा – पीड़िता ने न्यायाधीश के समक्ष 164 के बयान में नहीं लिया ब्रह्मानंद नेताम का नाम

BJP प्रत्याशी पर दुष्कर्म के आरोप पर पार्टी का…

रायपुर। प्रदेश भाजपा ने भानुप्रतापपुर विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशी पर लगाए जा रहे संगीन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया…