• 14/08/2022

पिता ने 50 हजार की सुपारी देकर कराई बेटे की हत्या, पुलिस जांच में हुए चौंकाने वाले खुलासे, 3 गिरफ्तार

पिता ने 50 हजार की सुपारी देकर कराई बेटे की हत्या, पुलिस जांच में हुए चौंकाने वाले खुलासे, 3 गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में 21 जुलाई को मिले एक युवक की हुई हत्या के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। हत्या के इस मामले में पुलिस ने बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया है। हत्या का आरोपी और कोई नहीं बल्कि पिता और भाई हैं। पिता ने 50 हजार रुपये में अपने पुत्र की हत्या की सुपारी दी थी और बाहर से हत्यारे बुलवाए गए थे। मामले में पिता-पुत्र सहित तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामले में हत्या का मुख्य आरोपी अभी भी फरार है।

मामला बेरला थाना क्षेत्र का है। बोरिया बांध के पास झाड़ियों में एक व्यक्ति का लावारिस हालत में पड़ा शव मिला था। मृतक की पहचान बेरला निवासी धर्मेन्द्र देशलहरे के रुप में हुई थी। मृतक के शरीर पर चोट के कई निशान थे। मौके पर पुलिस को शराब की टूटी बोतल, चखना इत्यादि मिला था।

हत्या की तफ्तीश के दौरान पुलिस के हाथ कई महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे। सीसीटीवी फुटेज में मृतक धर्मेन्द्र बाइक पर दो लोगों के साथ बैठकर जाते नजर आया। पुलिस की जांच में बाइक सवार एक व्यक्ति की पहचान राजनांदगांव के साल्हेवारा निवासी पारस रात्रे के रुप में हुई। पुलिस जब आरोपी के ठिकाने तक पहुंची तो पता चला कि वह फरार है। बाइक सवार दूसरे व्यक्ति की पहचान दुर्ग जिला का धमधा निवासी संत कुमार बांधे के रुप में हुई।

तेलंगाना से बुलाया हत्यारों को

पुलिस ने संत कुमार बंधे को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि वह पारस रात्रे के साथ तेलंगाना में मजदूरी कर रहा था। पारस के पास मृतक धर्मेन्द्र के छोटे भाई का कॉल आया था। उसने भाई की हत्या की 50 हजार रुपये में सुपारी दी। उन्हें बतौर 20 हजार रुपये एडवांस के रुप में दिए गए बाकी की रकम हत्या के बाद देने के लिए कहा।

दोनों आरोपी 20 जुलाई को धर्मेन्द्र को लेकर देशी शराब की दुकान से शराब ली और मुर्गा बनवाया। जिसके बाद बेरला बांध में झाड़ियों के पीछे तीनों ने शराब पी। आरोपी पारस रात्रे ने धर्मेन्द्र के ऊपर ब्लेड से हमला कर दिया। पारस ने धर्मेन्द्र के गले पर ब्लेड से कई वार किया और पत्थर से उसके सिर पर हमला कर दिया। वहीं दूसरे आरोपी संतकुमार बांधे ने शराब की शीशी तोड़कर धर्मेन्द्र के गले में घुसा दिया।

इस वजह से दी हत्या की सुपारी

हत्या के अगले दिन मृतक के छोटे भाई रेखचंद ने उन्हें बाकी के 30 हजार रुपये दिए। दोनों आरोपियों ने पैसे का बंटवारा किया और आरोपी पारस तेलंगाना चले गया। मामले में पुलिस ने मृतक के पिता प्रेमचंद और उसके छोटे भाई को भी गिरफ्तार किया। पूछताछ में उन्होंने बताया कि मृतक धर्मेन्द्र शराब पीने का आदि था और आए दिन घर में लड़ाई झगड़ा करता था। जिससे परेशान होकर उन्होंने उसकी हत्या की सुपारी दी।

इसे भी पढ़ें : इनकम टैक्स ने 1250 लोगों को भेजा नोटिस, 3000 से ज्यादा लोग राडार पर, यह है मामला

इसे भी पढ़ें : इनकम टैक्स ने 1250 लोगों को भेजा नोटिस, 3000 से ज्यादा लोग राडार पर, यह है मामला


Related post

पार्टी में सिगरेट नहीं दी तो हुई जमकर लड़ाई, दोस्त ने ही दोस्त की कर दी हत्या

पार्टी में सिगरेट नहीं दी तो हुई जमकर लड़ाई,…

महाराष्ट्र के ठाणे से दोस्ती के रिश्ते को तार-तार करने वाली एक घटना सामने आई है. यहां ठाणे के डोंबिवली शहर…
इस हत्याकांड में संघ प्रचारक सहित RSS के 11 कार्यकर्ताओं को उम्र कैद की सजा, ये है मामला

इस हत्याकांड में संघ प्रचारक सहित RSS के 11…

केरल की एक अदालत ने हत्या के एक मामले में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के 11 कार्यकर्ताओं को उम्रकैद की…
लिव-इन रिलेशन का खौफनाक अंत : आफताब ने प्रेमिका के किए 35 टुकड़े, फ्रिज में छुपाकर रखी लाश, 18 दिन फेंकते रहा लाश के टुकड़े

लिव-इन रिलेशन का खौफनाक अंत : आफताब ने प्रेमिका…

देश की राजधानी दिल्ली में करीब 6 महीने पहले हुई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है.…