• 16/07/2022

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में बाढ़ से तबाही तो वहीं इन इलाकों में अभी भी अच्छी बारिश का इंतजार

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में बाढ़ से तबाही तो वहीं इन इलाकों में अभी भी अच्छी बारिश का इंतजार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक जून से लेकर अब तक लगभग सामान्य वर्षा हो चुकी हैं, वहीं कुछ जिलों में भारी बारिश से जहां स्थिति बिगड़ी हुई है तो वहीं कुछ जिलों में अल्पवर्षा के चलते चिंता व्याप्त है। मौसम विभाग के अनुसार जिन इलाकों में कम बारिश हुई है वहां अभी भी अच्छी बारिश हो सकती है, मानसूनी सीजन में सिस्टम बनने तथा इसके सक्रिय होने से ही तय होता है कि किन इलाकों में अच्छी बारिश होगी।

इसे भी पढ़ें : गोधरा कांड के बाद तीस्ता सीतलवाड़ को मिले थे 30 लाख रुपये, मोदी के खिलाफ अहमद पटेल ने रची थी साजिश – SIT

मौसम विभाग से जारी आंकड़ों के अनुसार जिन जिलों में अधिक बारिश हो चुकी है उनमें बलौदाबाजार, बालोद, बस्तर, धमतरी, गरियाबंद, जांजगीर-चांपा, कबीरधाम, कांकेर, कोण्डागांव, मुंगेली, नारायणपुर, राजनांदगांव जिला शामिल है। इसी तरह बीजापुर में अब तक सर्वाधिक बारिश रिकार्ड की गई है। यहां अब तक 178 प्रतिशत अधिक बारिश होने से हालात बेकाबू हो गए हैं और प्रशासन की पूरी टीम बाढ़ प्रभावितों को बचाने में जुट गई है। दूसरी ओर छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों में अल्पवर्षा के चलते खेती-किसानी का काम काफी पिछड़ गया है। इनमें बलरामपुर, जशपुर और सरगुजा जिला शामिल हैं। इन इलाकों में चालू मानसूनी सीजन में औसत बारिश भी नहीं हो पाई हैं।

इसके चलते यहां अभी तक खेती-किसानी का काम जोर नहीं पकड़ पाया है। वहीं बेमेतरा के साथ ही बिलासपुर, दंतेवाड़ा, दुर्ग, कोरबा, महासमुंद, रायगढ़, सुकमा में अब तक केवल सामान्य बारिश ही हो पाई है। इन इलाकों में चालू मानसूनी सीजन में औसत से कुछ अधिक ही बारिश हो पाई है जिसे सामान्य माना जाता है। वहीं कोरिया जिले के साथ ही रायपुर, सूरजपुर ऐसे जिले हैं जहां चालू मानसूनी सीजन में न्यूनतम बारिश का आंकड़ा ही पूरा हो पाया है। मौसम विभाग के अनुसार अभी मानसूनी सीजन चालू हैं, खाड़ी में बनने वाले सिस्टम और इनका मूव्हमेंट से यह तय होता है कि प्रदेश के जिस इलाके में कितनी बारिश हो सकती हैं, इसके अलावा अन्य मौसमी तंत्र से प्रदेश के उत्तरी इलाकों में भी अच्छी बारिश होती हैं, इसीलिए अभी चिंता करने की जरूरत नहीं है।

इसे भी पढ़ें : सांसद का विवादित बयान भगतसिंह को बताया ‘आतंकवादी’

इसे भी पढ़ें-छत्तीसगढ़ से तेलंगाना को जोड़ने वाला यह नेशनल हाईवे है तीन दिनों से बंद, यह है कारण…


Related post

Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से लुढ़का पारा, छत्तीसगढ़ समेत इन राज्यों में इस साल ज्यादा पड़ेगी ठंड

Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से…

पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही है. जिस कारण मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने लगी है. दिल्ली, छत्तीसगढ़ समेत अन्य…
CG के इस जिले में एक ही कमरे में चल रहा पूरा स्कूल, अव्यवस्थाओं के बीच पढ़ने को मजबूर बच्चे

CG के इस जिले में एक ही कमरे में…

छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार शिक्षा को लेकर लाख दावे कर ले, लेकिन हकीकत इससे परे हैं. इसका ताजा उदाहरण सरगुजा जिले…
Live-in-Relationship की अनोखी प्रेम कहानी: 30 साल लिव-इन के बाद 67 की उम्र में जोड़े ने की शादी, आशीर्वाद देने पहुंचे 4 गांव के लोग

Live-in-Relationship की अनोखी प्रेम कहानी: 30 साल लिव-इन के…

मोहब्बत कभी जाति-धर्म, ऊंच-नीच नहीं देखता है और न ही किसी बंधन का मोहताज होता है. इसका एक बेमिशाल उदाहरण छत्तीसगढ़…