• 29/07/2022

चूहों ने मेडिकल कॉलेज में मचाया आतंक, मरीजों को चढ़ रहे ग्लूकोज तक गटक रहे, प्रबंधन ने निकाला मारने का कॉन्ट्रेक्ट

चूहों ने मेडिकल कॉलेज में मचाया आतंक, मरीजों को चढ़ रहे ग्लूकोज तक गटक रहे, प्रबंधन ने निकाला मारने का कॉन्ट्रेक्ट

द तथ्य डेस्क। छत्तीसगढ़ के एक मेडिकल कॉलेज में इन दिनों चूहों ने जमकर आतंक मचाया हुआ है। चूहों ने प्रबंधन और वहां भर्ती मरीजों के नाक में इतना दम कर दिया है कि वे मरीजों को चढ़ाई जाने वाली ग्लूकोज के बॉटल को ही गटक ले रहे हैं। वहीं दस्तावेज सहित करोड़ों की मशीनों को भी हानि पहुंचा रहे हैं। आलम यह है कि इनके आतंक से परेशान प्रबंधन ने इन चूहों को मारने के लिए ठेका दे दिया है।

इसे भी पढ़ें :  छत्तीसगढ़ में फिर भूकंप के झटके, बार-बार धरती डोलना आखिर क्या संकेत दे रहा ?

 

दरअसल यह पूरा मामला जगदलपुर मेडिकल कालेज का है। अस्पताल प्रबंधन इन हजारों चूहों के आतंक से बेहाल हो उठा है। मेडिकल कालेज और अस्पताल में जगह-जगह घूम रहे इन चूहों के आतंक से यहां आने वाले लोग भी परेशान है। सबसे ज्यादा परेशानी यहां भर्ती होने वाले मरीज और उनके परिजनों को उठाना पड़ रहा है।

आलम यह है कि वार्डों में भर्ती मरीजों के ग्लूकोज बोतल तक को चूहे गटक रहे हैं। इसके अलावा वे मरीजों के परिजनों को भी लगातार कुतर कर नुकसान पहुंचा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर अस्पताल में करोड़ों रूपए के उपकरणों के वॉयरों को भी चूहे लगातार कतर रहे हैं। इससे अस्पताल में जांच सुविधा भी प्रभावित हो रही थी।

इसे भी पढ़ें : BREAKING : पानी में उतरे दोस्त को बचाने 5 डूबे, 2 का शव बरामद

तमाम दिक्कतों को देखते हुए अस्पताल प्रबंधन ने चूहों को मारने के लिए अब एक निजी कंपनी को ठेका दे दिया है। चूहों को मारने के लिए बकायदा यहां से टेंडर निकाला गया था। रायपुर की एक कंपनी ने चूहों को मारने का बीड़ा उठाया और अस्पताल में अब तक जगह-जगह छिपे चूहों को ढूंढ-ढूंढकर मारा जा रहा है। इस एजेंसी ने अब तक 1500 से अधिक चूहों को परलोक पहुंचा दिया है। टीम का कहना है कि चूहे रात में ज्यादा सक्रिय होते हैं, ऐसे में उनके ठिकानों को ढूंढा जा रहा है। आतंक का पर्याय बन चुके इन जीवों को मारने तरह-तरह के ट्रिक अपनाए जा रहे है। प्रबंधन का कहना है कि रोजाना 50 से 60 चूहों केा मारा जा रहा है। अस्पताल में अभी भी हजारों की संख्या में चूहे होंगे जिन्हें टीम लगातार ढूंढ-ढूंढकर मार रही है।

इसे भी पढ़ें : आसमान से टूटा कहर, आधा दर्जन मौत से गांव में पसरा मातमीज


Related post

नक्सलियों ने फोर्स को निशाना बनाने लगाई थी IED, हो सकती थी भारी तबाही, CRPF ने माओवादियों के मंसूबों को ऐसा किया नाकाम

नक्सलियों ने फोर्स को निशाना बनाने लगाई थी IED,…

छत्तीसगढ़ में तैनात CRPF के जवानों ने एक बार फिर नक्सलियों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर दिया है। फोर्स को…
Heavy Rain in Chattisgarh: बस्तर संभाग के इन जिलों में भारी बारिश ने मचाई तबाही, सैकड़ों गांवों का टूटा संपर्क

Heavy Rain in Chattisgarh: बस्तर संभाग के इन जिलों…

छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में शनिवार देर रात से लगातार मूसलाधार बारिश हो रही है. बीते 6 घंटों से लगातार बस्तर…
परीक्षा परिणाम घोषित : 2100 युवा बने बस्तर टाइगर, 7 जिलों के लिए हुई थी परीक्षा

परीक्षा परिणाम घोषित : 2100 युवा बने बस्तर टाइगर,…

बस्तर फाइटर्स फोर्स की भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित हो गया है। बस्तर फाइटर्स फोर्स में 2100 युवाओं का चयन हुआ…