• 21/07/2022

नुसरत मिर्जा अपने बयान से मुकरे, कहा – ये सब पॉवर पॉलिटिक्स का हिस्सा

नुसरत मिर्जा अपने बयान से मुकरे, कहा – ये सब पॉवर पॉलिटिक्स का हिस्सा

द तथ्य डेस्क। पाकिस्तानी पत्रकार नुसरत मिर्जा विवाद बढ़ता देख अब अपने बयान से मुकर गए हैं। नुसरत मिर्जा का कहना है कि उसके बयानों को तोड़मरोड़कर पेश किया गया, जिसके चलते विवाद निर्मित हुआ। जबकि वास्तविकता इससे परे है। ने पाकिस्तान के एक यूट्यूब में भारत के उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी से मुलाकात करने, भारत से मिली जानकारी आईएसआई को देने जैसे बातों से अब वे पूरी तरह से मुकर गए हैं। नुसरत मिर्जा का कहना है कि यह भारत की पॉवर पालिटिक्स है, हामिद अंसारी को जानबूझकर टॉरगेट किया गया।

इसे भी पढ़ें: मंत्री ने दिया इस्तीफा, कहा- “दलित समाज से हूं, इसलिए मेरी सुनी नहीं जाती”

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र सियासी घमासान : सुप्रीम कोर्ट में अब अगली सुनवाई 01 अगस्त को

नुसरज मिर्जा अपने बयानों से पूरी तरह से पलट गए हैं, उन्होंने यहां तक कह दिया कि वो हामिद अंसारी से कभी भी व्यक्तिगत तौर पर नहीं मिले हैं, जबकि उन्होंने इंटरव्यू में दावा किया था कि वो हामिद अंसारी से 5 बार मुलाकात कर चुके हैं। दूसरा जिस दस्तावेज की बात हो रही है उसका भारत से कोई लेनादेना ही नहीं था। दरअसल वो दस्तावेज 2010 में आतंकवाद पर हुए एक सेमीनार में मौजूद पूर्व सोवियत जासू के आरोपों से जुड़े कागजात थे।
हामिद अंसारी को टॉरगेट करने की बात कहते हुए नुसरज मिर्जा ने कहा कि भाजपा उन्हें टॉरगेट कर रही है क्योंकि वो एक कांग्रेसी है। यह सब भारत की पॉवर पॉलिटिक्स का हिस्सा है। ऐसे में ऐसे विवाद को खड़ा किया गया है जिसका कोई आधार नहीं है। भारत में आयोजित उस सेमीनार में आखिर मैंने क्या कहा था, यह भी तो देखा और सुना जाए।

इसे भी पढ़ें: दो शार्प शूटर पुलिस एनकाउंटर में ढेर, मूसेवाला की हत्या में थे शामिल

नुसरत मिर्जा ने खुद को खुली किताब बताते हुए कहा कि मैं 80 साल का हो गया हूं, मैं ऐसा पत्रकार रहा हूं जिसका संबंध सभी लोगों से रहा है। मैं पत्रकारिता के साथ ही राजनीति में भी रहा हूं। इस तरह के विवादों से हम लोेगों को कोई फर्क नहीं पड़ता। रही बात संबंध की तो मैं प्रधानमंत्री का मीडिया सलाहकार रह चुका हूं, बेनजीर से अच्छे संबंध थे, नवाज शरीफ की कैबिनेट में सलाहकार रहा हूं। यह सब पॉवर पॉलिटिक्स का हिस्सा है जो भारत में चल रहा है। इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता।
इसे भी पढ़ें: ये बने श्रीलंका के नए राष्ट्रपति, मतदान मे मिले 134 वोट


Related post

Global Hunger Index 2022: ग्लोबल हंगर इंडेक्स में पड़ोसी देशों से भी पिछड़ा भारत; पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका भी इंडिया से आगे

Global Hunger Index 2022: ग्लोबल हंगर इंडेक्स में पड़ोसी…

ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2022 को लेकर 121 देशों की रैंकिंग की सूची जारी कर दी गई है. भारत इस इंडेक्स में…
EX MLA ने दी नए संसद भवन को बम से उड़ाने की धमकी, विस्फोटकों से भरा बैग भेजा, गिरफ्तार

EX MLA ने दी नए संसद भवन को बम…

एक पूर्व विधायक को नए संसद भवन सेंट्रल विस्टा (Central Vista) को बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोप में…
एयरपोर्ट पर गुंडागर्दी करने वाली लड़कियों पर FIR, सिर्फ इस बात पर युवतियों ने कर दी थी टैक्सी ड्राइवर की लात-घूसों से बेदम पिटाई, VIDEO वायरल

एयरपोर्ट पर गुंडागर्दी करने वाली लड़कियों पर FIR, सिर्फ…

रायपुर एयरपोर्ट पर कुछ लड़कियों की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है. यहां कुछ लड़कियों ने मिलकर एक युवक को बुरी…