अपने इस बयान की वजह से महाकालेश्वर नहीं जाए पाए रणबीर-आलिया, गृहमंत्री ने दी भावनाएं आहत न करने की सलाह

अपने इस बयान की वजह से महाकालेश्वर नहीं जाए पाए रणबीर-आलिया, गृहमंत्री ने दी भावनाएं आहत न करने की सलाह
Spread the love

बॉलीबुड एक्टर रणबीर कपूर और अलिया भट्ट को उज्जैन में बाबा महाकाल मंदिर में विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा. विरोध इतना उग्र हो गया कि महाकाल के दर्शन करने पहुंचे रणबीर-अलिया को वापस लौटना पड़ा. रणबीर का विरोध उनके 11 साल पुराने बयान के लिए हिंदू संगठनों ने किया. फिलहाल पूरे मामले को प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने संज्ञान में लिया है.

दरअसल, साल 2011 में रणबीर कपूर ने फिल्म रॉकस्टार का प्रचार करते हुए एक इंटरव्यू में कहा था कि ”मैं मटन, पाया और बीफ का फैन हूं. बीफ का तो बहुत बड़ा फैन हूं.” रणबीर के इसी बयान को लेकर उनके उज्जैन पहुंचने पर जमकर हंगामा काटा. साथ ही उन्हें काले झंडे भी दिखाए गए.

बीफ वाले बयान को लेकर महाकाल मंदिर में एक्टर रणवीर कपूर, आलिया भट्ट के प्रवेश नहीं होने देने को लेकर हिन्दुसंघठनो ने किया विरोध प्रदर्शन! मंदिर में नहीं पहुच पाए आलिया रणवीर भारी विरोध के बीच फ़िल्म डायरेक्टर अयान मुखर्जी व प्रोडक्शन टीम ने किया मंदिर के गर्भ गृह में दर्शन।

बता दें कि रणबीर कपूर, आलिया भट्ट और फिल्म ब्रह्मास्त्र के डायरेक्टर अयान मुखर्जी सहित प्रोडक्शन टीम मंगलवार शाम महाकाल मंदिर पहुंचे. जहां उनके आने की भनक हिंदू संगठनों को लगी तो संगठन अलर्ट हो गया और 4 बजे मंदिर के बाहर पहले वीआईपी प्रवेशद्वार के आस-पास एकट्ठे होना शुरू हो गए. जिसकी पुलिस को भनक तक नहीं लगी. इसी दौरान जैसे ही प्रोडक्शन टीम व अधिकारियों की गाड़ी तय समय पर प्रवेशद्वार से पहुंची तो हिंदू संगठनों ने नारेबाजी करने लगे और काले झंडे भी दिखाए.

वहीं प्रशासन जब प्रदर्शनकारियों को रोकना चाहा तो बजरंग दल के कार्यकर्ताओं-पदाधिकारियों की पुलिस से जमकर बहस हुई. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कार्यकर्ताओ को खदेड़ दिया. हालांकि मूवी की प्रोडक्शन टीम व अयान मुखर्जी डायरेक्टर ने मंदिर के गर्भगृह में बाबा महाकाल के दर्शन किए लेकिन आलिया और रणवीर मंदिर नहीं पहुंच पाए.

मंदिर पहुंचे अयान मुखर्जी ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि उनकी फिल्म के रिलीज होने से पहले बाबा के दर्शन करने की काफी इच्छा थी और वह आज दर्शन करके काफी प्रसन्न हैं. उन्होंने फिल्म की सक्सेस के लिए भगवान से मनोकामनाएं की है.

बता दें कि रणबीर-आलिया के उज्जैन में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि किसी विषय पर प्रदर्शन होना यह अलग विषय है. दर्शन के लिए कोई रोक नहीं थी. रणबीर और आलिया के साथ आए अयान मुखर्जी से लेकर सभी लोगों ने दर्शन किए. वहां पर पूरी व्यवस्था थी. प्रशासन ने रणबीर और आलिया से भी आग्रह किया गया था कि वह दर्शन के लिए चलें, लेकिन वह नहीं गए. मिश्रा ने कहा कि लोगों की भावनाओं को आहत करने वाले शब्दों का प्रयोग कलाकारों को नहीं करना चाहिए.

बहरहाल, हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता के खिलाफ धारा 353 के तहत थाना महाकाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. वहीं कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा कि हमारे पास पहले इनपुट आया था, हमारी हिंदू संगठनों से बात हुई थी. संगठनों ने आश्वासन दिया था कि कोई प्रदर्शन नहीं होगा, इसलिए तैयार नहीं थे. कलेक्टर ने कहा कि श्रद्धालु को दर्शन करने का अधिकार है. भविष्य में इस तरह का कोई वीवीआईपी गेस्ट आते हैं तो अलग से सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी.