• 18/07/2022

बिलासपुर हाईकोर्ट को जल्द मिलेंगे दो नए जज, सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने दी मंजूरी

बिलासपुर हाईकोर्ट को जल्द मिलेंगे दो नए जज, सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने दी मंजूरी

बिलासपुर/रायपुर। बिलासपुर हाईकोर्ट में जल्द ही दो नए जजों की नियुक्ति होगी। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट कॉलोजियम ने अपनी मंजूरी दे दी है। बिलासपुर हाईकोर्ट में दो नए जजों के रूप में एडवोकेट राकेश मोहन पाण्डेय तथा न्यायिक सेवा से राधाकृष्ण अग्रवाल का नाम शामिल है। इन नामों की मंजूरी के साथ अब हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस के साथ जजों की संख्या बढ़कर 14 हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें:देश के इन राज्यों में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले…


विदित हो कि 14 जुलाई 2022 को सुप्रीम कोर्ट कॉलोजिम की एक बैठक संपन्न हुई है। इस बैठक में एडवोकेट राकेश मोहन पाण्डेय तथा न्यायिक सेवा से राधाकृष्ण अग्रवाल का नाम हाईकोर्ट जज के रूप में प्रस्तावित की गई थी।

इसे भी पढ़ें:बाबा वेंगा ने साल 2022 को लेकर की थी ये दो भविष्यवाणियां जो हो गई सच

सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट से इस आशय का एक स्टेटमेंट आज जारी हो गया है। वर्तमान में बिलासपुर हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस अरूण कुमार गोस्वामी के साथ कुल 12 जज पदस्थ हैं। इन दो नए जजों की नियुक्ति के बाद यह संख्या 14 हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें: यहां यात्री बस रेलिंग तोड़ गिरी नदी में, अब तक 13 सवार शव बरामद


Related post

Weather Update Today: पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी से गिर रहा तापमान, इन राज्यों में बढ़ेगा सर्दी का सितम, जानिए CG में कैसा रहेगा मौसम

Weather Update Today: पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी से गिर…

उत्तर भारत के राज्यों में ठंड की शुरुआत होने लगी है. ज्यादातर जगहों पर सुबह-सुबह कोहरा नजर आने लगा है. तापमान…
Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से लुढ़का पारा, छत्तीसगढ़ समेत इन राज्यों में इस साल ज्यादा पड़ेगी ठंड

Weather Update Today: पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से…

पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही है. जिस कारण मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ने लगी है. दिल्ली, छत्तीसगढ़ समेत अन्य…
CG के इस जिले में एक ही कमरे में चल रहा पूरा स्कूल, अव्यवस्थाओं के बीच पढ़ने को मजबूर बच्चे

CG के इस जिले में एक ही कमरे में…

छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार शिक्षा को लेकर लाख दावे कर ले, लेकिन हकीकत इससे परे हैं. इसका ताजा उदाहरण सरगुजा जिले…