• 17/07/2022

मंत्री विधायकों के खिलाफ फूटा कांग्रेसियों का आक्रोश, बैठक में पुनिया के सामने जताई नाराजगी, बोले- जोगी की सरकार गई, रमन की गई.. नहीं समझे तो…

मंत्री विधायकों के खिलाफ फूटा कांग्रेसियों का आक्रोश, बैठक में पुनिया के सामने जताई नाराजगी, बोले- जोगी की सरकार गई, रमन की गई.. नहीं समझे तो…

द तथ्य डेस्क।  छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस की बैठक में पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं ने अपनी नाराजगी जताई है, बैठक में कुछ कार्यकर्ताओं ने तो यहां तक कह दिया कि इसी उपेक्षा के चलते अजीत जोगी और रमन सिंह की सरकार चली गई थी। संगठन को इस बात पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। कांग्रेस अपनी पीठ लाख थपथपा ले लेकिन कांग्रेस के भीतर चल रही कलह और नाराजगी अब सामने आने लगी है।

यह वाक्या कल छत्तीसगढ़ प्रदेश मुख्यालय में आयोजित पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की बैठक के दौरान सामने आया। बैठक में प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया, पीसीसी प्रमुख मोहन मरकाम विशेष रूप से मौजूद थे। पुनिया की उपस्थिति में ही कार्यकर्ताओं का दर्द छलक उठा और उन्होंने खुलकर अपनी बात सामने रखी।

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी को सम्मन, कांग्रेस 21 को ईडी कार्यालय के बाहर करेगी बड़ा विरोध-प्रदर्शन

पदाधिकारियों की बैठक में यह बात भी सामने आ गई है कि पदाधिकारियों के साथ ही कार्यकर्ता नाराज है। नाराजगी की वजह भी उपेक्षा हैं, जिन कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों के दम पर नेता पदासीन हुए हैं, आज उन्हें कार्यकर्ताओं की घोर उपेक्षा की जा रही है। बताया गया कि कार्यकर्ताओं ने यहां तक कह दिया कि निगम-मंडलों में 2200 नियुक्तियां होनी थी, लेकिन यह 400 पर रोक दी गई, नियुक्तियां होती हैं, मगर कार्यकर्ताओं से पूछा तक नहीं जाता।

इसे भी पढ़ें:कोलवाशरी व कोल डिपो में हुई 300 करोड़ की गड़बड़ी, संयुक्त जांच दल के दबिश में बड़ा खुलासा

एक जिलाध्यक्ष ने कहा कि अजीत जोगी की सरकार क्यों गई थी? रमन सिंह चाउर वाले बाबा कहलाते थे, मोबाइल बांटे फिर भी उनकी सरकार क्यों गई? यह सब कार्यकर्ताओं के असंतोष की वजह से हुआ। यदि यह बातें नहीं समझी गई तो बिगड़ेगा आपका। आप लोग जो ऊपर बैठे हैं, बिगड़ेगा उनका जो मंत्री हैं। हमारा क्या है हम तो कार्यकर्ता हैं।

कुछ कार्यकर्ताओं ने विधायकों पर भी जमकर भड़ास निकालते हुए कहा कि विधायक भी पदाधिकारियों की नहीं सुनते और तो और मिलने तक का समय नहीं दिया जाता।

इसे भी पढ़ें: सिंहदेव ने 4 पेज में दिया इस्तीफा, पेसा कानून सहित मंत्रियों के अधिकार को मुख्य सचिव को देने से थे नाराज, पढ़िए पूरा इस्तीफा


Related post

छत्तीसगढ़ में भयावह हुआ डेंगू का डंक, राजधानी में एक ही दिन में मिले 49 नए मरीज

छत्तीसगढ़ में भयावह हुआ डेंगू का डंक, राजधानी में…

छत्तीसगढ़ में डेंगू का प्रकोप दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है. एक बार फिर प्रदेश में डेंगू के मरीजों की संख्या में…
छत्तीसगढ़ के 61 विकासखंडों में होगी शराबबंदी, TS सिंहदेव का आया बड़ा बयान, कहा- BJP ने शराब बेचने की नीति बनाई

छत्तीसगढ़ के 61 विकासखंडों में होगी शराबबंदी, TS सिंहदेव…

छत्तीसगढ़ में 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में एक बार फिर शराबबंदी का मुद्दा गरमा रहा है. कांग्रेस…
ED BREAKING : IAS अधिकारी और कारोबारियों के यहां नगदी से भरी मिली आलमारी, 6.5 करोड़ कैश, सोना और जेवरात, ED ने दी आधिकारिक जानकारी

ED BREAKING : IAS अधिकारी और कारोबारियों के यहां…

छत्तीसगढ़ में ईडी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए छापे में अब तक 6.5 करोड़ से ज्यादा की रकम, सोना और जेवरात…