• 27/07/2022

पश्चिम बंगाल में भी होगा ऑपरेशन लोटस! बीजेपी के नेता का दावा- ममता के 38 विधायक संपर्क में

पश्चिम बंगाल में भी होगा ऑपरेशन लोटस! बीजेपी के नेता का दावा- ममता के 38 विधायक संपर्क में

द तथ्य डेस्क। टीएमसी के नेता और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विश्वास पात्र मंत्री पार्थ चटर्जी के ईडी के शिंकजे में फंसने के बाद से ही पश्चिम बंगाल की राजनीति में भूचाल मचा हुआ है। इसी बीच भाजपा नेता और अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने यह कहकर राजनीति में उफान ला दिया है कि टीएमसी के 38 विधायक भाजपा के संपर्क में है।

इसे भी पढ़ें : कश्मीरी पंडितों का हत्यारा आतंकी यासीन मलिक की तबियत बिगड़ी, तिहाड़ में कर रहा था भूख हड़ताल

मिथुन चक्रवती ने सीधे-सीधे यह संकेत दिया है कि महाराष्ट्र की तरह ही पश्चिम बंगाल में भी बड़ा राजनीतिक परिवर्तन हो सकता है। राज्य की सत्ताधारी दल टीएससी के 38 विधायक भाजपा के संपर्क में हैं, इनमें से 21 विधायक सीधे उनके संपर्क में हैं। इस विषय पर अधिक जानकारी न देते हुए मिथुन चक्रवती ने इतना जरूर कहा कि फिल्म से पहले म्यूजिक और फिर ट्रेलर रिलीज होता है, अभी म्यूजिक रिलीज हुआ है, अब ट्रेलर का इंतजार कीजिए।

इसे भी पढ़ें : PMLA पर सुप्रीम फैसला, याचिका पर कोर्ट ने कही ये बातें…

भाजपा को मुस्लिम विरोधी बताना केवल साजिश:
मिथुन चक्रवर्ती ने आगे कहा कि भाजपा को मुस्लिम विरोधी बताना केवल साजिश का हिस्सा है, असलियत में ऐसा कुछ भी नहीं है। मिथुन ने कहा कि हमेशा आरोप लगा है कि भाजपा दंगा करवाती है, लेकिन मैं साफ कहता हूं कि यह सिर्फ साजिश का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा मुस्लिमों के खिलाफ है जैसा आरोप लगाया जाता है तो इस सवाल का जवाब किसी के पास है कि भारत के तीन बड़े स्टार सलमान खान, शाहरुख खान और आमिर खान मुस्लिम हैं, यह कैसे संभव हुआ। मिथुन ने कहा, देश के 18 राज्यों में भाजपा की सरकार है। यदि भाजपा उनसे नफरत करती और हिंदूओं से प्यार करती तो भजपा को इतनी जीत कैसे मिलती।

इसे भी पढ़ें : सोनिया गांधी ने ईडी से कहा – मोतीलाल वोरा देखते थे लेनदेन

टीचर भर्ती घोटाला 100 का नहीं 2000 करोड़ का:

मिथुन चक्रवती ने पश्चिम बंगाल में ईडी की कार्रवाई पर बोलते हुए कहा कि अगर कोई सबूत नहीं है तो कोई डरने की बात नहीं है, अगर किसी ने गलत किया होगा तो कोई शक्ति उसे बचा नहीं सकती। बता दें कि ईडी ने ममता सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार किया है। चटर्जी को उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी की गिरफ्तारी के बाद पकड़ा गया था। अर्पिता मुखर्जी के घर से 20 करोड़ रुपये कैश मिले थे। ईडी का कहना है कि यह पैसा शिक्षक घोटाले से जुड़ा है, घोटाला पार्थ चटर्जी के शिक्षा मंत्री रहते हुआ था। मिथुन ने दावा किया कि टीचर भर्ती घोटाला 100 करोड़ नहीं बल्कि 2 हजार करोड़ का था।
इसे भी पढ़ें  : बस्तर में BDS टीम को मिला बम डिफ्यूज सूट का कवच, नहीं होगा ब्लास्ट का असर


Related post

मां के साथ मिलकर बेटे ने की पिता की हत्या, शव को आरी से काटकर लगाया ठिकाने, पुलिस में दर्ज कराई गुमशुदगी की रिपोर्ट

मां के साथ मिलकर बेटे ने की पिता की…

पश्चिम बंगाल से रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली एक घटना सामने आई है. यहां एक बेटे ने अपने नेवी से…
अधिकारी की गाड़ी रोककर भौंकने लगा युवक, फिर अधिकारी ने उठाया ये कदम… विरोध के इस अनोखे तरीके का देखिए VIDEO

अधिकारी की गाड़ी रोककर भौंकने लगा युवक, फिर अधिकारी…

सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो में युवक बीच सड़क पर एक अधिकारी की गाड़ी…
अपनी ही सरकार के खिलाफ BJP के पूर्व सांसद ने खोला मोर्चा, सरकारी आवास अलॉट करने के लिए कही ये बात…

अपनी ही सरकार के खिलाफ BJP के पूर्व सांसद…

एक बार फिर बीजेपी के दिग्गज नेता एवं पूर्व राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल…