• 30/08/2022

IAS और IPS अफसरों का HRA 9 से 27 फीसदी तक बढ़ा

IAS और IPS अफसरों का HRA 9 से 27 फीसदी तक बढ़ा

छत्तीसगढ़ में डीए और एचआरए बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर कर्मचारियों और अधिकारियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी है। इसके बीच प्रदेश में कार्यरत अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों के  गृह भाड़ा भत्ता (HRA) बढ़ा दिया गया है। इसे लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी किया है।

सामान्य प्रशासन विभाग के आदेश के मुताबिक केन्द्रीय वित्त मंत्रालय, व्यय विभाग के कार्यालयीन ज्ञापन 7 जुलाई 2017 के अऩुसार महंगाई भत्ता 25 प्रतिशत से ऊपर हो जाएगा तो एक्स, वाई और जेड श्रेणी के शहरों के लिए मकान किराया भत्ता की दरें रिवाइज करके क्रमशः 27 प्रतिशत, 18 प्रतिशत और 9 प्रतिशत कर दिया जाएगा।

सामान्य प्रशासन द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि वर्तमान में छत्तीसगढ़ में कार्यरत अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों का महंगाई भत्ता 25 फीसदी से ज्यादा है। ऐसे में सातवें वेतनमान आयोग की सिफारिशों के मुताबिक एचआरए स्वीकृत किया जाता है।

आपको बता दें राज्य के कर्मचारी-अधिकारी संगठन भी डीए और एचआरए बढ़ाने की मांग को लेकर पिछले 9 दिन से हड़ताल पर हैं। संगठन की मांग है कि उन्हें भी केन्द्रीय कर्मचारियों की तरह 34 फीसदी डीए दिया जाए।

इसे भी पढ़ें : बड़ी खबर : हड़ताल में शामिल कर्मचारियों पर सरकार सख्त, कार्रवाई के दिए गए आदेश

इसे भी पढ़ें : BREAKING : अडाणी बने दुनिया के तीसरे सबसे अमीर कारोबारी, अब मस्क और बेजोस ही आगे

इसे भी पढ़ें : महिला ने SSP ऑफिस के सामने दरोगा को चप्पलों से पीटा, जानिए क्या है पूरा मामला…

इसे भी पढ़ें : UP में तेजी से फैल रहा लंपी वायरस, 21 जिलों में मिले 12 हजार से अधिक मामले


Related post

गद्दार कहे जाने पर सचिन पायलट का अब आया बड़ा रिएक्शन, जानिए क्या कहा

गद्दार कहे जाने पर सचिन पायलट का अब आया…

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर इस वक्त सबकी नजर है। वजह अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच का…
मंदिरों में मोबाइल फोन ले जाने पर हाईकोर्ट ने लगाया बैन, दिया ये आदेश

मंदिरों में मोबाइल फोन ले जाने पर हाईकोर्ट ने…

मोबाइल आजकल हर किसी की जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है। ऐसी कोई भी जगह नहीं होगी कि जहां हम…
आरक्षण विधेयक पर राज्यपाल ने अभी नहीं किए हस्ताक्षर, बताई ये वजह

आरक्षण विधेयक पर राज्यपाल ने अभी नहीं किए हस्ताक्षर,…

छत्तीसगढ़ में आरक्षण संशोधन विधेयक गुरुवार को सर्वसम्मित से पारित हो गया है। सभी वर्गों (SC, ST, OBC, EWS) के लिए…